राजस्थान

राजस्थान जोधपुर: सेंट्रल जेल में एक कैदी ने अपने पेट में चार फोन छुपाए डॉक्टरों ने ऑपरेशन कर निकालें फोन

ब्यूरो रिपोर्ट

जोधपुर। राजस्थान के केंद्रीय कारागार जोधपुर में तलाशी के दौरान पकड़े जाने के डर से एक कैदी ने अपनी जान जोखिम में डाल ली। उसने अपने पेट में चार मोबाइल छुपा लिए, जिससे उसकी तबीयत बिगड़ गई। डॉक्टरों ने ऑपरेशन करके चारों मोबाइल उसके पेट से बाहर निकाले हैं।

काट रहा है दस साल की सजा
जोधपुर जेल अधीक्षक कैलाश त्रिवेदी ने बताया कि बाड़मेर निवासी देवाराम पुत्र भीखाराम जाट नाबालिग से दुष्कर्म के मामले में 10 साल की सजा काट रहा है।

जेल फैक्ट्री में जेलकर्मियों ने जेल से आने-जाने के दौरान गुरुवार को तलाशी ली। इस दौरान संभवतया देवाराम के पास कुछ मोबाइल थे।

जोधपुर सेंट्रल जेल के कैदी ने पेट में छुपाए चार मोबाइल, डॉक्टरों ने ऑपरेशन करके निकाले बाहर

पेट दर्द की शिकायत की
तलाशी में पकड़े जाने से बचने के लिए देवाराम ने पॉलिथीन में मोबाइल डालकर उन्हें अपनी गुदा में छुपा लिया। फिर वे मोबाइल उसके पेट में चले गए। शुक्रवार सुबह उसने पेट दर्द की शिकायत की। जेल में उसे दवाइयां दी गई। तबीयत में सुधार नहीं होने पर डॉक्टरों ने उसका एक्स-रे और सोनोग्राफी करवाई।

  1. तब सामने आया कि कैदी ने अपने पेट में मोबाइल डाल रखे हैं। उसके बाद कैदी को जोधपुर के मथुरादास माथुर अस्पताल ले जाया गया। वहां डॉक्टर ने उसका ऑपरेशन कर पेट से 4 मोबाइल निकाले। फिलहाल कैदी की हालत स्थिर बनी हुई है।

error: Content is protected !!
Close