उत्तरप्रदेशएक्सक्लूजिव खबरें

भगवा कपड़ा पहनकर मज़ार तोड़ रहे थे, पकडे गए तो नाम पता चला – ‘कामिल’ और ‘आदिल’

ब्यूरो रिपोर्ट

उत्तर प्रदेश (यूपी) के बिजनौर (Bijnor) जिले में 2 मजारों में तोड़फोड़ हुई है. भगवा रंग का साफा पहने दो आरोपी युवकों को मौके से पकड़ा गया है और पुलिस ने अरेस्ट कर लिया है. इन युवकों का नाम कामिल और आदिल बताया जा रहा है. यूपी के एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) प्रशांत कुमार ने  बताया कि शुरूआती तौर पर यह एक साजिश नजर आ रही है, इसलिए इसकी जांच यूपी पुलिस की एक विशेष टीम कर रही है. पुलिस अधिकारियों के मुताबिक यूपी एटीएस भी जल्द आरोपियों से पूछताछ कर सकती है.

 2 मजारों में की तोड़फोड़

सूत्रों के अनुसार, बिजनौर के एसपी दिनेश सिंह ने बताया,

 

“रविवार शाम करीब साढ़े 4 बजे बिजनौर के शेरकोट थाना क्षेत्र से जलाल शाह की मजार पर तोड़फोड़ करने की सूचना मिली. इसके बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंची तो जानकारी मिली कि दो भाई मोहम्मद कामिल और मोहम्मद आदिल ने मजार में तोड़फोड़ की है. इस घटना के थोड़ी देर बाद एक सूचना मिली कि जिले के घोसियावाला गांव में भूरे शाह की मजार पर भी तोड़फोड़ की गई है और चादर जलाई गई है. सूचना के बाद वहां पुलिस पहुंची तो गांव वालों की मदद से दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया.”

कांवड़ यात्रा केे दौरान माहौल खराब करना मकसद था ?

एसपी दिनेश सिंह ने ये भी बताया कि फिलहाल पुलिस की सतर्कता के चलते जिले का माहौल शांत है और शासन से भी उच्च अधिकारियों को बिजनौर के शेरकोट पहुंचने का निर्देश दिया गया है. यूपी पुलिस से जुड़े सूत्रों के अनुसार, पश्चिमी यूपी सहित पूरे प्रदेश में कांवड़ यात्रा जारी है. ऐसे में इस घटना के पीछे आरोपियों का क्या मकसद हो सकता है, इसके लिए लखनऊ से एटीएस जल्द पूछताछ के लिए बिजनौर आ सकती है.

 

मजार में तोड़फोड़ के बाद क्या बोले आरोपी?

सूत्रों के अनुसार  मजार में तोड़फोड़ और चादर जलाए जाने के दौरान कुछ लोगों ने आरोपी युवकों को पकड़ कर उनसे पूछताछ की. दोनों ने कहा कि अभी वे और मजारों में तोड़फोड़ करेंगे. इन दोनों युवकों ने लोगों से कहा कि इन मजारों का क्या फायदा है? उधर, इन दोनों आरोपियों को उनके परिजनों ने मानसिक रोगी बताया है.

Related Articles

error: Content is protected !!
Close