प्रधान संपादक ऋषि त्यागीराजस्थान

सब इंस्पेक्टर ने अपने से 15 साल महिला से कुंवारा बताकर प्रेमजाल में फंसाया, पत्नी की तरह रखकर 4 साल दुष्कर्म किया….

ब्यूरो रिपोर्ट

राजस्थान…..

पति से परेशान होकर थाने पहुंची थी।

पुलिस वाले ने कुंवारा बताकर प्रेमजाल में फंसाया, पत्नी की तरह रखकर 4 साल दुष्कर्म किया

पाली जिले की एक महिला ने तत्कालीन नैनवा सीआई (सब इंस्पेक्टर) रामलाल मीणा के खिलाफ रेप का मामला कोर्ट के जरिए कोतवाली थाने में दर्ज कराया है।

महिला का आरोप है कि मीणा ने धोखे से शादी की और 4 साल तक रेप किया। पुलिस मामले की जांच में जुटी हैं।

दरअसल, महिला ने 2020 में भी बूंदी के नैनवा थाने में भी तत्कालीन प्रभारी रामलाल मीणा के खिलाफ एक मुकदमा दर्ज कराया था। इसमें दोनों का राजीनामा हो गया था।

महिला ने बार फिर 16 सितंबर को रामलाल मीणा के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया है। शनिवार को महिला के सामने आने पर पूरे मामले का खुलासा हुआ।

कोतवाली थाने में दी गई रिपोर्ट में विवाहिता ने आरोप लगाया कि बिलाड़ा (जोधपुर) में उसका ससुराल है। पति से परेशान होकर उसने 2016 में पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। इस दौरान पुलिस अधिकारी रामलाल मीणा के संपर्क में आई। नवंबर 2016 में ही पीड़ित महिला अपने पति से अलग हो गई। उसने खुद को अविवाहित बताकर नजदीकियां बढ़ाईं। एक स्टांप पेपर पर शादी कर 4 साल में कई बार रेप किया। प्रेग्नेंट हुई तो दो बार गर्भपात तक करवाया। इसके बाद सितंबर 2019 में पीड़िता का अपने पति से तलाक हो गया।

रिपोर्ट में बताया कि 2019 में ही महिला को पता चला कि पुलिस अधिकारी रामलाल मीणा शादीशुदा है। आरोपी ने युवती को बताया कि उसका पत्नी से विवाद चल रहा है। मामला कोर्ट में है। ये जानने के बाद दोनों के बीच तकरार होने लगी। युवती से मारपीट कर परेशान किया जाने लगा। आखिर दिसंबर 2020 में आरोपी ने उससे मारपीट की। तब उसने बूंदी में मुकदमा दर्ज करवाया। रामलाल भी नैनवा में पोस्टेड था। महिला ने शादीशुदा होते हुए झूठ बोलकर पत्नी की तरह रखने का मामला दर्ज करवाया गया था।

मामले में पुलिस ने एफआर लगा दी। दोनों में राजीनामा हो गया। इसमें रामलाल ने युवती को साथ रखने का और पत्नी को तलाक देने का दिलासा दिया, लेकिन आरोपी ने कुछ समय बाद महिला को मारपीट कर निकाल दिया। इसके बाद महिला कई बार अपनी शिकायत लेकर पुलिस अधिकारियों के पास पहुंची, लेकिन मामले की सुनवाई नहीं हुई। आखिर महिला ने रामलाल मीणा के खिलाफ कोतवाली थाने में अधिवक्ता योगेश शर्मा के जरिए कोर्ट से मामला दर्ज कराया।

आरोपी शादीशुदा है।

महिला आरोपी मीणा से करीब 15 साल छोटी है। उसकी उम्र 26 साल है। आरोपी की उम्र 42 साल के करीब है। आरोपी शादीशुदा है। दो बच्चों का पिता है। रिपोर्ट में युवती ने आरोप लगाया कि उक्त आरोपी ने खुद को अविवाहित बताकर उसे अपने प्रेमजाल में फंसाया। शादी करने और तलाकशुदा कोटे से कॉन्स्टेबल बनाने का झांसा देकर रेप किया।

 

26 वर्षीय पीड़िता ने इस्तगासे में बताया कि उसकी शादी बिलाड़ा निवासी एक युवक से 4 फरवरी 2016 में हुई थी। ससुराल वाले उसे परेशान करने लगे। यह शादी करीब 3 माह ही चली। पति और ससुराल पक्ष के खिलाफ बिलाड़ा थाने में दहेज प्रताड़ना का केस दर्ज कराया, जिसकी जांच उस समय एएसआई पद पर रहे रामलाल मीणा कर रहे थे।

करवा चौथ से फोटोज भी सामने आए

आरोपी पुलिस अधिकारी रामलाल मीणा और विवाहिता के साथ कई फोटो भी सामने आए हैं, जिसमें कुछ वर्दी में भी हैं। इन फोटो में करवा चौथ का व्रत खोलते हुए भी कुछ फोटोज हैं।

गुपचुप तरीके से की शादी

पीड़िता का आरोप है कि पाली में आरोपी ने उसके नाम से खाली स्टांप पेपर खरीदे। शादी करने के कागजात बनाए। बाद में उससे गुपचुप तरीके से विवाह किया। शादी को गोपनीय रखने के लिए आरोपी ने उसका जबरदस्ती गर्भपात भी करवा दिया। 2020 में रामलाल बूंदी के नैनवा में थानाधिकारी था। पीड़िता वहां गई तो उसे पता चला कि रामलाल शादीशुदा है। उसकी दो संतान हैं। आरोप है कि पुलिसकर्मियों के साथ षड्यंत्र कर पीड़िता के साथ मारपीट कर वहां से भगा दिया और दस्तावेज जला दिए।

पूर्व सीआई ने कहा- ब्लैकमेल कर रुपए वसूलना चाहती है

मामले में आरोपी पूर्व सीआई किशनगंज रामलाल मीणा का कहना है कि यह युवती किसी को भी ब्लैकमेल कर जबरन लोगों पर प्रेशर बनाकर रुपए वसूलने का काम करती है। इसको पूरा शहर जानता है। यह बहुत पहले का मामला है।

 

Related Articles

error: Content is protected !!
Close